Breaking News
Home / Country / इस युवती ने अपने दो साथियों के साथ सैकड़ों चिकित्सकों को फांसा अपने जाल में, करोडो रुपए ठग लिए

इस युवती ने अपने दो साथियों के साथ सैकड़ों चिकित्सकों को फांसा अपने जाल में, करोडो रुपए ठग लिए

दैनिक दिव्यज्योति

जयपुर। संगठित गिरोह बनाकर सैकड़ों चिकित्सकों को ऋण दिलवाकर शेयर मार्केट में निवेश करवाने के नाम पर करोड़ों रूपए की ठगी करने वाले गिरोह के 3 अभियुक्तों को एसओजी ने गिरफ्तार कर लिया है।

पुलिस गिरफ्त में आरोपी नेहा जैन उर्फ रानी जैन

एसओजी-एटीएस के अतिरिक्त महानिदेशक पुलिस अनिल पालीवाल ने बताया कि विगत दिनों एसओजी में आकर काफी संख्या में चिकित्सकों ने आरोपियों के खिलाफ ऋण दिलवाने के नाम पर ठगी करने की शिकायत दी थी।

इस पर टीम ने कार्रवाई करते हुए आरोपी अमित शर्मा पुत्र सुरेश चन्द शर्मा (42) निवासी- बी-88, कीर्ति नगर, टोंक रोड़, जयपुर हाल बी-1101, स्काई टेरीसेज, वी.टी. रोड़, मानसरोवर, जयपुर, डॉक्टर रामलखन डिसानिया पुत्र जगदीश डिसानिया (38) निवासी डिसानिया की डाणी आला का बास डूंगरी थाना जोबनेर जयपुर व नेहा जैन उर्फ रानी जैन पुत्री स्वर्गीय अशोक कुमार जैन (23) निवासी बी-42 शिवनगर जनता कालोनी पुलिस थाना आदर्श नगर जयपुर को गिरफ्तार किया।

ऐसे करते थे ठगी:
उन्होंने बताया कि उपरोक्त तीनों अभियुक्त रामलखन डिसानिया, जो पेशे से स्वंय चिकित्सक है, का फायदा उठाते हुए चिकित्सकों से सम्पर्क करते है। उन्हे बड़ी होटलों में मीटिंग व पार्टियं आयोजित कर उनकी ओर से व्यवसाय/शेयर मार्केट में निवेश करने का लालच देते है। गिरोह में मौजूद बैंककर्मी व वित्तीय संस्थाओं के पदाधिकारी चिकित्सकों को बैंकों एवं वित्तीय संस्थाओं से भारी ऋण उपलब्ध करवाते है। इसके बाद उक्त ऋण के पैसों को स्ंवय की ओर से संचालित व्यवसाय में निवेश करवा देते हैं। जहं से प्रतिमाह दस हजार से एक लाख रूपये तक के मुनाफे का लालच दिया जाता है। ऋण की अदायगी भी मासिक ईएमआई भी उसी मुनाफे की रकम से चुकाने का झांसा दिया जाता है। आरोपियों ने वर्ल्ड ट्रेड पार्क में एक आफिस का भी संचालन कर रखा था। अभियुक्तों ने चिकित्सकों को जल्द ही फार्मा, माईनिंग व प्रोपर्टी में निवेश कर भारत की प्रसिद्ध फर्म बनने का भी झांसा दिया गया। उक्त मीटिंग में चिकित्सकों को आकर्षित करने के लिए ईएमआई के अतिरिक्त लाभ से उन्हे आई फोन, महंगी कारे जैसे ऑडी, बीएमडब्ल्यू आदि कम ब्याज पर दिलवाने का प्रलोभन भी दिया गया।

About divya jyoti

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *