Breaking News
Home / Country / प्रियंका को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने के सुझाव पर बोले राहुल गांधी- उसको इसमें मत खींचो

प्रियंका को कांग्रेस अध्यक्ष बनाने के सुझाव पर बोले राहुल गांधी- उसको इसमें मत खींचो

नई दिल्ली। कांग्रेस कार्यसमिति की शनिवार को हुई बैठक में राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने इस्तीफे की पेशकश की। जिसे समिति ने ठुकरा दिया। हालांकि सूत्रों ने बताया कि इसके बावजूद राहुल गांधी इस्तीफा देने पर अड़े रहे। सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) ने इस मामले पर कहा कि यह राहुल का अपना फैसला है।

CWC की बैठक से बाहर निकलता गांधी परिवार

इस बात की संभावना कम है कि राहुल अपना मूड बदलेंगे। राहुल ने इस बात पर जोर दिया कि अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी किसी और को संभालनी चाहिए, लेकिन मिली जानकारी के मुताबिक जब प्रियंका गांधी का नाम सामने आया तो राहुल ने कहा, ‘मेरी बहन को इसमें मत खींचो.’ राहुल ने बैठक में कहा, ‘हमें अपनी लड़ाई को जारी रखना होगा। मैं कांग्रेस का अनुशासित सिपाही हूं और रहूंगा और बिना डरे लड़ता रहूंगा, लेकिन मैं अब पार्टी का अध्यक्ष बनकर नहीं रहना चाहता।कार्यसमिति की इस बैठक में राहुल की मां सोनिया गांधी, बहन प्रियंका गांधी और पूर्व पीएम मनमोहन सिंह शामिल थे। हालांकि समिति की बैठक में मौजूद सदस्यों ने साफ किया कि उन्होंने राहुल के इस्तीफे को अस्वीकार कर दिया है. कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा, ‘ऐसे कठिन हालात में हमें राहुल गांधी के नेतृत्व की जरूरत है।

CWC में इस्तीफे पर अड़े राहुल गांधी, कहा- मुझे जाना होगा

समिति के फैसले पर पार्टी प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला (Randeep Surjewala) ने कहा, ‘कांग्रेस कार्य समिति 2019 के लोकसभा चुनाव के जनादेश को विनम्रता से स्वीकार करती है. कांग्रेस कार्यसमिति 12.13 करोड़ साहसी व सजग मतदाताओं को धन्यवाद देती है, जिन्होंने कांग्रेस पार्टी में अपना विश्वास व्यक्त किया. कांग्रेस पार्टी एक जिम्मेदार और सकारात्मक विपक्ष के रूप में अपना कर्तव्य निभाएगी और देशवासियों की समस्याओं को सामने रख उनके प्रति सरकार की जवाबदेही सुनिश्चित करेगी. कांग्रेस कार्यसमिति कांग्रेस अध्यक्ष, पार्टी के पदाधिकारियों, नेताओं, पार्टी कार्यकर्ताओं और कांग्रेस प्रत्याशियों के प्रति आभार व्यक्त करती है, जिन्होंने चुनावी अभियान की चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में कड़ा संघर्ष करते हुए दिन-रात जमीनी मेहनत की. कांग्रेस कार्यसमिति हमारे सभी सहयोगी दलों और उनके नेतृत्व को धन्यवाद देती है, जिन्होंने इस सैद्धांतिक लड़ाई में कांग्रेस पार्टी का साथ दिया. कांग्रेस अध्यक्ष, राहुल गांधी (Rahul Gandhi) ने कांग्रेस कार्यसमिति के सामने अध्यक्ष पद से अपने इस्तीफे की पेशकश की, लेकिन कार्यसमिति के सदस्यों ने सर्वसम्मति और एक स्वर से इसे खारिज करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष का आह्वान किया कि प्रतिकूल व चुनौतीपूर्ण परिस्थितियों में पार्टी को राहुल गांधी के नेतृत्व और मार्गदर्शन की जरूरत है।

About divya jyoti

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *