Breaking News
Home / Country / राज्यसभा में तो पास, लोकसभा में आज पेश होगा जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन का बिल

राज्यसभा में तो पास, लोकसभा में आज पेश होगा जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन का बिल

दैनिक दिव्यज्योति

नई दिल्ली। नरेन्द्र मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को लेकर ऐतिहासिक फैसला लिया है। जम्मू-कश्मीर अब अलग केन्द्र शासित राज्य बन गए है और लद्दाख अलग से प्रदेश बन गया है। केन्द्रीय गृहमंत्री अमित शाह सोमवार को राज्यसभा में जम्मू-कश्मीर के पुनर्गठन का बिल पेश करेंगे।

अमित शाह और मोदी की फाइल फोटो

लोकसभा में बीजेपी के पास अकेले के दम पर बहुमत है, ऐसे में संसद के निचले सदन से इसे पास कराने के में कोई परेशानी नहीं होगी। वैसे भी बीजेपी इस बिल को पास कराने के  लिल पूरी तरह से तैयार है। पीएम ने अपने सभी सांसदों को सदन में उपस्थित रहने के लिए कहा है। वहीं राज्यसभा में इस बिल को लेकर दो फाड़ दिखी कांग्रेस ने भी अपने सभी लोकसभा सांसदों को सदन में उपस्थित रहने को कहा है। कांग्रेस पार्टी के नेता के. सुरेश ने लोकसभा सांसदों के लिए व्हिप जारी किया है। राज्यसभा में ना सिर्फ कांग्रेस बल्कि पूरा विपक्ष अलग-थलग दिखा।

आप भी समर्थन करते आई नजर:

भाजपा का विरोध करने वाली आम आदमी पार्टी धारा-370 हटाने के फैसले का समर्थन करते नजर आई। बसपा ने भी इस फैसले का समर्थन किया। इसके अलावा बीजद कांग्रेस ने भी इस बिल के पक्ष में वोट दिया है। राज्यसभा में इस बिल के पक्ष में 125 और विरोध में कुल 61 वोट पड़े थे। बता दें कि राज्यसभा में कांग्रेस पार्टी ने इस बिल का पुरजोर विरोध किया है। कांग्रेस नेता गुलाम नबी आज़ाद ने केंद्र सरकार की आलोचना करते हुए कहा कि जिस तरह से इसे लागू किया जा रहा है वह लोकतंत्र के इतिहास का काला दिन है।

मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को दो हिस्सों में बांटने का फैसला किया है। लद्दाख को जम्मू-कश्मीर से अलग करके बिना विधानसभा वाला केंद्र शासित क्षेत्र बनाया जाएगा, जबकि जम्मू-कश्मीर को भी केंद्र शासित प्रदेश बनाने का प्रस्ताव है। जम्मू-कश्मीर अब राजधानी दिल्ली की तरह कार्य करेगा, जहां विधानसभा तो होगी लेकिन वह केंद्र शासित प्रदेश ही रहेगा।

About divya jyoti

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *