Breaking News
Home / Country / पकड़ा गया शास्त्री नगर में 7 साल की बच्ची से दुष्कर्म का आरोपी

पकड़ा गया शास्त्री नगर में 7 साल की बच्ची से दुष्कर्म का आरोपी

जयपुर शास्त्री नगर में कुछ दिन पूर्व लगातार एक के बाद एक बच्चियों के दुष्कर्म के मामलों में पुलिस को बड़ी सफलता हाथ लगी है। पुलिस ने सीरियल रेपिस्ट को झालावाड़ और कोटा पुलिस की मदद से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस आरोपी को लेकर जयपुर के लिए रवाना हो गई है।

आरोपी जीवाणु उर्फ सिकंदर

पुलिस कमिश्नर आनंद श्रीवास्तव ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी जीवाणु उर्फ सिकंदर है यह जयपुर का रहने वाला है। आरोपी ने 1 जुलाई को शास्त्री नगर में रहने वाली 7 वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म किया था। बाद में उसको बदहवास हालत में छोड़कर फरार हो गया था। इस मामले में स्थानीय लोगों ने जमकर प्रदर्शन करते हुए वाहनों में तोड़फोड़ कर दी थी। इस पर संभागीय आयुक्त केसी वर्मा के निर्देशानुसार करीब चार-पांच दिन इंटरनेट की सेवाएं बंद रही पुलिस ने बताया कि आरोपी घटना के बाद फरार हो गया था। जिसकी सूचना मिलने पर जयपुर कमिश्नरेट की टीम झालावाड़ और कोटा पुलिस के सहयोग से आरोपी जीवाणु उर्फ सिकंदर को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है।

कॉपी पर बना रखी थी लडक़ी की फोटो
सिकंदर के कमरे से पुलिस को एक कॉपी भी मिली है। उसमें उसने एक लडक़ी की फोटो बना रखी है और उसकी आंखों से आंसूं निकलते दिखाए और नाम लिखा शहनाज बानो। दूसरे पन्ने पर उसने खुद की फोटो बना रखी है। वहीं एक पन्ने पर उसने बड़े अक्षरों में सिकंदर लिखा है। साथ ही उसने सिकंदर… मौत का कहर भी लिख रखा है। पुलिस पता लगा रही है कि शहनाज कौन है।
खानाबदोश की तरह रहता था आरोपी
आरोपी 22 जून व 1 जुलाई की वारदात के दिन भी इलाके में देखा गया था। इसी आधार पर पुलिस ने सिकंदर उर्फ जिवाणुकी तलाश शुरू की। आरोपी खानाबदोश की तरह रहता था, इसलिए सटीक जानकारी हाथ नहीं लगी। पुलिस ने पता लगाया तो सामने आया कि वह नाई की थड़ी के आस-पास रहता है। एक टीम वहां भेजी तो पता चला कि सिकंदर यहां से जा चुका है। उसने अपनी मोटर साइकिल के नंबर प्लेट बदल लिए थे और मोबाइल फोन बंद कर लिए। पुलिस को उसके घर से दो नकली पिस्टल भी मिली थी। पीडि़त बालिका ने पुलिस को बताया था कि आरोपी ने उसे पिस्टल दिखाकर धमकी भी दी थी।

About divya jyoti

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *